Breaking

Sunday, March 21, 2021

छेड़छाड़ का विरोध करने पर लड़की के घर पर बदमाशों ने किया हमला।

 बिहार के सीतामढ़ी में छेड़छाड़ का विरोध करने पर लड़की के घर पर किया हमला।


सबसे बड़ी खबर आई है बिहार के सीतामढ़ी इलाके में से जहां पर छेड़छाड़ का विरोध करने पर एक लड़की के घर पर हमला किया गया।

छेड़छाड़ का विरोध करने पर लड़की के घर पर किया हमला।
छेड़छाड़ का विरोध करने पर लड़की के घर पर किया हमला।



पता चला इस लड़के ने जिस लड़की के घर पर हमला किया था ।उसने इस लड़की को अपहरण करने की कोशिश की। उसके बाद इस लड़की के घर वालों ने इस लड़के को मारा था। इसी का बदला लेने के लिए इस लड़के ने कुछ अपने बदमाश दोस्त को लेकर इस लड़की के घर पहुंचा वहां पर पहुंचते ही लड़की के घर के सामने जो दरवाजा था उसे लात मारकर तोड़ने की कोशिश की।लेकिन दरवाजा नहीं टूटा और वह लोग अंदर दाखिल नहीं हो पाए। जिसके वजह से फिलहाल लड़कि अभी भी सुरक्षित है लेकिन इसके बाद ही लड़की के परिवार ने थाने में जाकर मामला दर्ज किया।


पुलिस ने कहा कि लड़की के परिवार को सुरक्षा दी जाएगी और जो आरोपी है उनके ऊपर जांच पड़ताल की जाएगी और उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।


इस घटना के दौरान लड़की के इलाके में जो पड़ोसी रहते थे उन्होंने भीड़ जमा कर ली लेकिन, सबसे हैरान करने वाली बात है कि।

 मोहल्ले के किसी ने भी आरोपी को नहीं पकड़ा यह चुपचाप इस हंगामे को देखते रहे और किसी ने भी इसका विरोध नहीं किया।


क्या जनता भी डर रही है इन बदमाशों से।उनके मन में भी थोड़ी सी भी इंसानियत नाम की चीज नहीं थी। आपको क्या लगता है इतने सारे लोग मिलकर इन तीन अपराधी को नहीं पकड़ सकते थे। या फिर इन्होंने जानबूझकर नहीं पकड़ा ताकि इनके ऊपर भी हमला ना हो जाए इसके डर से।

जो भी लगता है कमेंट बॉक्स में जरूर कमेंट करके बताइए।


अगली बड़ी खबर यह है राजस्थान के श्रीनगर में पाकिस्तानी घुसपैठियों को मारा गया बीएसएफ ने पाकिस्तानी घुसपैठियों को मार गिराया


खबर यह है कि पाकिस्तान से कुछ नापाक घुसपैठिए इंडिया में नापाक अपराध को अंजाम देने के लिए भारत के सीमा पर घुस रहे थे इसी दौरान बीएसएफ ने यह देख लिया और उसे वहीं पर ही ढेर कर दिया।


बीएसएफ की सेना जांच पड़ताल कर रही है कि इस नापाक घुसपैठियों के पास क्या-क्या हथियार है या फिर इनके पास क्या-क्या विस्फोटक है।


और इन पाकिस्तानी घुसपैठियों के डेड बॉडी को पोस्टमार्टम करने के लिए भेजा गया है



No comments:

Post a Comment